नारियल विकास बोर्ड के बारे में  
 
 

Back to Homepage

Coconut Development Board HQ, Kera Bhavan, Kochi
नारियल विकास बोर्ड,मुख्‍यालय
केरा भवन, कोची

नारियल विकास बोर्ड सांविधिक निकाय है जो देश में नारियल की खेती और उद्योग के एकीकृत विकास हेतु कृषि मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन स्‍थापित है और नारियल की उत्‍पादकता बढ़ाने और उत्‍पादों के विविधीकरण पर ज़ोर दिया जाता है।

 

::  नाविबो कार्यालयों के बारे में अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें::

:: अधिदेश :: बोर्ड के प्रकार्य:: प्रमुख क्षेत्र ::
::
नाविबो के सारथी
:: बोर्ड के सदस्‍य:: समिति सदस्‍य ::
:: ओर्गानोग्राम ::
::
पुस्‍तकालय सेवाए:: प्रौद्योगिक:: विजय गाथाएं ::
 :: उपलब्धियां :: सार्वजनिक सूचना :: शिकायत अधिकारी ::
::
नाविबो अधिनियम :: नाविबो नियम :: नाविबो विनियम ::

*अधिदेश

नारियल विकास बोर्ड सांविधिक निकाय है जो देश में नारियल के उत्पादन और उपयोग के एकीकृत विकास हेतु कृषि मंत्रालय, भारत सरकार के अधीन स्‍थापित है और उत्‍पादकता की वृद्धि और उत्‍पाद विविधीकरण पर ज़ोर देता है। । बोर्ड 12 जनवरी 1981 को स्थापित हुआ और कृषि मंत्रालय, भारत सरकार के प्रशासनिक नियंत्रण में कार्यरत है।  इसका मुख्‍यालय केरल के कोची में है और क्षेत्रीय कार्यालय कर्नाटक के बैंगलूर, तमिल नाडु के चेन्‍नै एवं असम की गुवाहटी में है। बोर्ड के छह राज्‍य केन्‍द्र हैं जो उड़ीसा के भुबनेश्‍वर, पश्चिम बंगाल के कोलकाता, बिहार के पटना, महाराष्‍ट्र के ठाणे, आंध्र प्रदेश के हैदराबाद और संघ शासित क्षेत्र अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह के पोर्ट ब्‍लेयर में स्थित हैं। देश के विविध भागों में बोर्ड के 9 प्रदर्शन सह बीज उत्‍पादन फार्म  हैं और अब 7 फार्मों का रख-रखाव किया जाता है। दिल्ली में बाज़ार विकास सह सूचना केन्‍द्र स्‍थापित है। बोर्ड ने केरल में आलुवा के पास वाष़क्‍कुलम में प्रौद्योगिकी विकास केन्‍द्र की भी स्‍थापना की है।


*बोर्ड के प्रकार्य

  • नारियल उद्योग के विकास के लिए उपाय अपनाना, साथ ही साथ

  • नारियल खेती और उद्योग से जुड़े लोगों को तकनीकी सलाह देना।

  • नारियल के अधीन क्षेत्र विस्‍तार के लिए वित्‍तीय एवं अन्‍य सहायता प्रदान करना।

  • नारियल और इसके उत्‍पादों के प्रक्रमण हेतु आधुनिक प्रौद्योगिकियाँ अपनाने हेतु प्रोत्‍साहित करना।

  • नारियल और इसके उत्‍पादों को अच्छा दाम मिलने हेतु उपाय अपनाना।

  • नारियल और इसके उत्‍पादों का विपणन सुधारने के लिए उपायों की अनुशंसा देना।

  • नारियल और इसके उत्‍पादों के आयातों और निर्यातों के नियमन के लिए उपायों की अनुशंसा देना।

  • नारियल और इसके उत्‍पादों के ग्रेडों, विनिर्देशों और मानदंडों का निर्धारण।

  • नारियल का उत्‍पादन बढ़ाने और नारियल की गुणवत्‍ता एवं पैदावार में सुधार लाने के लिए उपयुक्‍त योजनाएं वित्‍तपोषित करना।

  • नारियल और इसके उत्‍पादों के कृषीय, प्रौद्योगिकीय, औद्योगिक या आर्थिक अनुसंधान हेतु सहायता देना, प्रोत्‍साहन देना, समर्थन करना और वित्‍तपोषण करना ।

  • नारियल और इसके उत्‍पादों से संबंधित आँकड़े इकट्ठा करना और प्रकाशित करना।

  • नारियल और इसके उत्‍पादों के संबंध में प्रचार कार्य करना तथा पुस्‍तकों एवं पत्रिकाओं का प्रकाशन करना।

    अधिनियम में निर्धारित  लक्ष्‍यों को साकार करने के उद्देश्य से बोर्ड अपनी स्थापना से लेकर योजनाएं तैयार करते और कार्यान्वित करते आ रहे हैं।


* प्रमुख क्षेत्र

  • गुणवत्‍तापूर्ण रोपण सामग्रियों का उत्‍पादन बढ़ाना।

  • नारियल के अधीन अधिकाधिक क्षेत्र लाकर उसकी भावी उत्‍पादन क्षमता सृजित करना।

  • वर्तमान नारियल जोतों की उत्‍पादकता सुधारना

  • मुख्‍य पीड़कों और रोगों का एकीकृत प्रबंधन

  • उत्‍पाद विविधीकरण और उपोत्‍पाद उपयोगिता को बढ़ावा देकर नारियल उद्योग को मज़बूत करना

* पुस्‍तकालय सेवाएं

  1. उधार सेवा

  2. अंतर पुस्‍तकालय उधार

  3. संदर्भ सेवा

  4. सामयिक सूचना सेवा

  5. रिप्रोग्रा‍फिक सेवा


 

* प्रौद्योगिकी

नारियल विकास बोर्ड भारत में नारियल प्रौद्योगिकी विकसित करने की अग्रणी संस्‍था है।

  1. परियोजना की व्‍यवहार्यता का अध्‍ययन करना और परियोजना की व्‍यवहार्यता की विस्‍तृत रिपोर्ट तैयार करना।

  2. नारियल आधारित उत्‍पादों की तकनीकी जानकारी प्रदान करना, जैसे         

  • फुहार शुष्कित नारियल दूध पाउडर       

  •  डाब पानी का पैकेजिंग और परिरक्षण

  • नारियल पानी आधारित सिरका

  • नम-संसाधित नारियल तेल

  •  अक्षत नारियल तेल

3.  नारियल आधारित इकाइयाँ स्‍थापित करने के लिए उद्यमियों को तकनीकी मार्गदर्शन देना।

* गुणवत्ता परीक्षण संयंत्र

एरणाकुलम के आलुवा में, वाष़क्‍कुलम स्थित बोर्ड के प्रौद्योगिकी विकास केन्‍द्र में खोपड़ा, नारियल तेल व सिरके के रासायनिक विश्‍लेषण की  सुविधाएं उपलब्‍ध हैं।

अधिक जानकारी के लिए कृपया संपर्क करें

श्री श्रीकुमार पोतुवाल
       प्रक्रमण इंजीनियर

 
नारियल विकास बोर्ड, प्रौद्योगिकी विकास केन्‍द्र,
कींपुरम, साउथ वाष़क्‍कुलम, आलुवा, एरणाकुलम, पिन- 683 105

 
दूरभाष : 0484- 2679680 ई मेल-citaluva(a)gmail(dot)com

* महिला उद्यमियों और स्वयं सहायता समूहों के लिए  प्रशिक्षण कार्यक्रम
प्रौद्योगिकी विकास केंद्र, आलुवा में

कार्यक्रम के उद्देश्य

       नारियल आधारित सुविधाजनक खाद्य पदार्थों व उत्पादों के विविध नुस्खों की भारी संभावनाओं पर ध्यान केंद्रित करना।

       प्रशिक्षण कुशलता,उद्यमिता विकास तथा नेतृत्व गुण विकसित करना एवं विपणन के उपायों की सूचना देना।

       भागीदारों को खाद्य प्रक्रमण उद्योगों में व्यवहृत गुणवत्ता नियंत्रण उपायों एवं गुणवत्ता प्रबंधन प्रणालियों से परिचित कराना।

       सुविधाजनक नारियल खाद्य पदार्थों के परिरक्षण हेतु विभिन्न पैकेजिंग प्रणालियों की जानकारी देना।

विषय क्षेत्र

  • प्रशिक्षण कार्यक्रम पर परिचय सत्र

  • उत्पादों से परिचित कराना

  • उत्पादों का निदर्शन

  • व्यावहारिक प्रशिक्षण

  • गुणवत्ता मानक और गुणवत्ता प्रबंधन प्रणालियाँ

  • पैकेजिंग और परिरक्षण तकनीक

  • विपणन की रणनीतियाँ

  • आवृत्ति सत्र

जिन जिन उत्पादों पर प्रशिक्षण देता है (4 दिवस)
(निदर्शन व प्रशिक्षण ) नारियल चिप्स , नारियल कुकीज़, लेमेनेड, तीयल मिक्स iҪɱ मिक्स, नारियल दूध टोफी,नारियल कैंडी,नारियल चोकोलेट,नारियल अचार और स्नोबोल डाब।

जिन जिन उत्पादों पर प्रशिक्षण देता है (1 दिवस)
(
मात्र निदर्शन) नारियल चिप्स, नारियल कुकीज़, नारियल लेमोनेड व नारियल कैंडी

जिन जिन उत्पादों पर प्रतीक्षा देता है (2 दिवस)
(
प्रौद्योगिकी हस्‍तांतरण सह प्रशिक्षण) नारियल सिरका

कार्यक्रम
प्रस्तुत कार्यक्रम नारियल आधारित सुविधाजनक खाद्य पदार्थों के निर्माण में पदार्पण करने वाले स्वयं सहायता समूहों 
/महिला समूहों/ समितियों/ उद्यमियों के लिए लक्षित है।

स्थान: प्रौद्योगिकी विकास केंद्र, नारियल विकास बोर्ड, कींपुरम,दक्षिण वाष़क्कुलम,आलुवा -683105, केरल, दूरभाष:0484-2679680 (आलुवा से 10 कि.मी. की दूरी पर (आलुवा-पेंरुबंत्तूर प्राइवट बस रूट में)

अवधि : 1 से 4 दिवस कुल सीट: प्रत्येक बैच में 10-12 व्यक्ति

शुल्क
4
दिवसीय कार्यक्रम के लिए प्रति भागीदार 450/- रुपए, एक दिवसीय कार्यक्रम के लिए प्रति भागीदार 125/- रुपए और नारियल सिरके पर दो दिवसीय कार्यक्रम के लिए प्रति व्यक्ति या इकाई (अधिकतम 3 नामित व्यक्ति)  1000/-रू.*  प्रस्तुत शुल्क के अंतर्गत व्याख्यान सत्र, पाठ्यक्रम सामग्रियाँ, भोजन, चाय-पान तथा संस्थागत सुविधाएँ सम्मिलित है।

पंजीकरण
भागीदारों से अनुरोध है कि संलग्न प्रपत्र में पंजीकरण करें, साथ में नारियल विकास बोर्ड के नाम आलुवा में देय निर्धारित शुल्क का डिमांड ड्रैफ्ट भी भेजें।

मूल्यांकन
प्रशिक्षार्थी के कार्यनिष्पादन का मूल्यांकन किया जाएगा और प्रमाणपत्र के साथ ग्रेड भी दिया जाएगा।

पंजीकरण प्रपत्र

भागीदार/रों का नाम:
संपर्क
करने का पता:
दूरभाष :
यदि प्रायोजित हो तो प्रायोजक एजेंसी का पता
:
दूरभाष
:
फैक्स
:
ई मेल
:
प्रशिक्षण के लिए उपयुक्‍त तारीखें
(तीन विकल्प दें)
इच्छा
है : 1 दिवसीय 2 दिवसीय 4 दिवसीय कार्यक्रम
(
जो बी लागू हो उस पर टिक मार्क करें)
डीडी सं
.......................... राशि रू...............
प्रायोजक प्राधिकारी का हस्ताक्षर
........................
नारियल विकास बोर्ड के नाम आहरित आलुवा में देय डीडी द्वारा भुगतान किया जाए।

निर्धारित पंजीकरण शुल्क सहित पंजीकरण प्रपत्र प्रौद्योगिकी विकास केंद्र, नारियल विकास बोर्ड, कींपुरम, साउथ वाष़क्कुलम, आलुवा-683105, केरल, ई.मेल-citaluva(a)gmail(dot)com में भेजें*

यह भी विसिट करें:-

 प्रक्रमण प्रौद्योगिकियाँ

विजय गाथाएँ

Back to Top...

 

 

 

Friends of Coconut Tree

Coconut Producers' Society

Photo Gallery

Media says
on coconut

 

BACK

HOME

Back

Home